Thursday, April 19, 2012

बच्चों के बीच मंत्रोच्चारण प्रतियोगिता... (Kids competed in Mantra recital competition...)

विशेष नोट : पिछले कुछ दिनों से मैं अपनी ही पुरानी पहेलियों को नए कलेवर में आपके पास लेकर आ रहा हूं, और मेरी कोशिश रहती है कि वे आपको नई पहेली जैसी ही चुनौती दें... सो, आप सभी से अनुरोध है कि मुझे ज़रूर बताएं कि मैं कामयाब रहा या नहीं...

नोट : अगर आप जवाब ढूंढ लेते हैं तो ठीक, वरना कमेंट लिख दीजिएगा, मैं जवाब आपको मेल के जरिये भेज दूंगा...

हमारे परिवार के पांच बच्चों - सार्थक, निष्ठा, जिज्ञासा, अम्बर और समग्र - ने संस्कृत मंत्रोच्चारण प्रतियोगिता में भाग लिया, जिसके लिए पांच मंत्र - गायत्री मंत्र, महामृत्युंजय मंत्र, प्रातःकालीन मंत्र, णमोक्कार महामंत्र, तथा श्री रामस्तुति - निश्चित कर दिए गए थे...

प्रतियोगिता में इन्हीं पांच मंत्रों में से एक मंत्र को पांच बार, दूसरे को चार बार, तीसरे को तीन बार, चौथे को दो बार, तथा पांचवें को एक बार पढ़ा जाना था, परन्तु प्रत्येक बच्चे को यह ध्यान रखना था कि कोई भी मंत्र किन्हीं भी दो बच्चों द्वारा बराबर बार न पढ़ा जाए...

सो, इस प्रकार प्रतियोगिता में प्रत्येक बच्चे को इन्हीं पांच मंत्रों को कुल 15 बार पढ़ना था, और उन्हें शुद्ध उच्चारण के लिए अंक मिलने वाले थे...

गायत्री मंत्र को एक बार पढ़ने में 48 सेकंड लगने थे; महामृत्युंजय मंत्र में 78 सेकंड; प्रातःकालीन मंत्र में 88 सेकंड; णमोक्कार महामंत्र में 116 सेकंड; तथा श्री रामस्तुति का एक बार पाठ करने में 128 सेकंड लगने थे...
  • सार्थक ने गायत्री मंत्र का पाठ चार मिनट में पूरा किया, और णमोक्कार महामंत्र तथा महामृत्युंजय मंत्र पर कुल मिलाकर पांच मिनट 10 सेकंड लगाए...
  • जिज्ञासा ने मंत्रोच्चारण में सबसे कम समय लगाया, जो निष्ठा द्वारा लगाए समय की तुलना में पांच मिनट 32 सेकंड कम था...
  • अम्बर ने दो बार महामृत्युंजय मंत्र पढ़ा, और णमोक्कार महामंत्र तथा प्रातःकालीन मंत्र पर कुल मिलाकर 15 मिनट चार सेकंड लगाए...
  • निष्ठा ने मंत्रोच्चार में सबसे ज़्यादा समय लगाया, क्योंकि उसने पांच बार णमोक्कार महामंत्र का पाठ किया, चार बार श्री रामस्तुति का, और गायत्री मंत्र उसने सिर्फ एक बार पढ़ा...
  • जिस बच्चे ने 21 मिनट और 26 सेकंड में मंत्रोच्चारण संपन्न किया, उसने पांच बार गायत्री मंत्र पढ़ा था, और तीन बार श्री रामस्तुति...
  • जिज्ञासा ने सिर्फ एक बार णमोक्कार महामंत्र का पाठ किया, परन्तु उसने तीन बार प्रातःकालीन मंत्र तथा पांच बार महामृत्युंजय मंत्र पढ़ा...
  • जिस बच्चे ने प्रतियोगिता जीती, उसने प्रातःकालीन मंत्र केवल एक बार पढ़ा, और मंत्रोच्चारण में कुल मिलाकर 24 मिनट 44 सेकंड लगाए...
अब क्या आप लोग बता सकते हैं, कि किस बच्चे ने मंत्रोच्चारण में कुल कितना समय लगाया, किस मंत्र को कितनी बार पढ़ा... और हां, प्रतियोगिता कौन जीता...?

Now, the same riddle in English...

Special Note: Since last few days, I am creating the riddles from my old riddles only, and I always try that they pose a good challenge, as a new riddles does... So, I request you all to please let me know if I have been successful in that...

Note: If you succeed in solving this one, well and good; but in case, you don't, just leave a comment, and I will mail the answer to you...

The five children of my family - Saarthak, Nishtha, Jigyaasa, Ambar, and Samagra - participated in a Sanskrit Mantrochchaaran (mantra recital or incantation) competition, for which five mantras - Gayatri Mantra, Maha-Mrityunjay Mantra, Praatah-kaaleen Mantra, Namokkaar Mahamantra, and Shri Ram Stuti - were chosen...

For the competition, the kids needed to recite one of the mantras five times, another four times, the third mantra needed to be recited three times, the fourth one two times, and the fifth and last mantra only once, but they needed to make sure that no two kids recite the same mantra the same number of times...

So, each of the kids needed to recite these five mantras 15 times in toto, and they were to be adjudged for their pronunciation...

Gayantri Mantra took 48 seconds in one recital; Maha-Mrityunjay Mantra 78 seconds; Praatah-kaaleen Mantra needed 88 seconds; Namokkaar Mahamantra 116 seconds; and Shri Ram Stuti took 128 seconds to finish each time its recited...
  • Saarthak took four minutes to complete the recital of Gayantri Mantra; and spent five minutes 10 seconds in reciting Namokkaar Mahamantra & Maha-mrityunjay Mantra combined...
  • Jigyaasa took the least time in toto, which was five minutes & 32 seconds less than the time taken by Nishtha...
  • Ambar recited the Maha-mrityunjay Mantra twice; and spent 15 minutes & four seconds combined in reciting Namokkaar Mahamantra & Praatah-kaaleen Mantra...
  • Nishtha took the most time in completing her recital, because she recited the Namokkaar Mahamantra five times, Shri Ram Stuti four times, and she recited Gayantri Mantra only once...
  • The kid, who took 21 minutes & 26 seconds in the complete recital, recited Gayantri Mantra five times, and Shri Ram Sturi three times...
  • Jigyaasa recited the Namokkaar Mahamantra only once; but she recited the Praatah-kaaleen Mantra three times, and Maha-mrityunjay Mantra five times...
  • The kid, who won the competition, recited the Praatah-kaaleen Mantra only once, and took 24 minutes & 44 seconds in completing the recital...
Now, can you guys tell me, which kid took how much time in finishing his or her recital, and recited which mantra how many times... And yes, who won the competition...?

2 comments:

  1. This comment has been removed by a blog administrator.

    ReplyDelete